होली हम नाहीं खेलब

“सारा रारा , रारा रारा ,रारा रारा ,

रारा रारा ,रारा रारा ,रारा रारा ,

होली है |

अमवा मुजरिया पर गमक चढ़े,

आ फागुन में गाल के ललाई बढ़े |

बोल हई रे , हई रे हा |

“सुन , कान खोल के एगो बात सुन ल

आज जदि लेट कइल न , त ह , बुझ लिह ,

थोथनवे ताहर कूच देम

रतिया में अइब त केवाड़ी नाही खोलब

काँचे रे निंदिया , काँचे रे निंदिया

ऐ हो , रतिया में अइब त केवाड़ी नाही खोलब

काँचे रे निंदिया , काँचे रे निंदिया

होली हम नाही खेलब

काँचे रे निंदिया , होली हम नाही खेलब

रतिया में अइब त केवाड़ी नाही खोलब

काँचे रे निंदिया ,काँचे रे निंदिया

होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया , होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया, होली हम नाहीं खेलब

“फागुन में केहुओ के रहे न होश ,

सोरहो घरी रहे मन मदहोश”

बोल हई रे , हई रे , हा

“अरे जा ऐ विश्वाश होली में सब भइल सत्यानाश ऐ दादा”

भिक्स लेके फिक्स कइले बानी तोहरा डेट के

गमछी में मुहवा तू अइह लपेट के

सुन न

भिक्स लेके फिक्स कइले बानी तोहरा डेट के

गमछी में मुहवा तू अइह लपेट के

हाला होइ जाई त झमेला नाहीं झेलब

काँचे रे निंदिया , काँचे रे निंदिया

होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया , होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया , होली हम नाहीं खेलब

आव हो चिरई खा ल दाना ,

नइखे फागुन में केहुओ के माना

बोल हई रे , हई रे , हा |

“दिलवा लगा के देख , रंगवा लगा के देख

अरे दिलवा लगा के देख , रंगवा लगा के देख ”

“चपले रह चपले रह ऐ छोटन, मनीष ”

होइ सावधान पान खा के तू अइह

चुम्मा लेवे के बेरी गाल गमकइह

होइ सावधान पान खा के तू अइह

चुम्मा लेवे के बेरी गाल गमकइह

देर कके अइब त मुँह से न बोलब

काँचे रे निंदिया , काँचे रे निंदिया

होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया , होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया , होली हम नाहीं खेलब

काँचे रे निंदिया , होली हम नाहीं खेलब

Solutionsikho.com
CLICK HERE VIDEO SONG